Hathras : हाथरस धार्मिक सभा में भगदड़ में 121 लोगों की मौत, 28 घायल

0
18
Crowd at the religious gathering in Hathras, Uttar Pradesh

Hathras: हाथरस में धार्मिक आयोजन के दौरान हुई दुखद घटना

उत्तर प्रदेश के हाथरस में एक धार्मिक आयोजन के दौरान हुई भयावह भगदड़ में 121 लोगों की दुखद मौत हो गई। इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना की पुष्टि 3 जुलाई को एक वरिष्ठ अधिकारी ने की।

घटना का विवरण

राहत आयुक्त कार्यालय के अनुसार, 2 जुलाई को हुई भगदड़ में 28 लोग घायल भी हुए। उत्तर प्रदेश पुलिस ने 3 जुलाई को कार्यक्रम के आयोजकों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करके त्वरित कार्रवाई की है।

उत्तर प्रदेश पुलिस की कार्रवाई

उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा दर्ज की गई प्राथमिकी में इस बात पर प्रकाश डाला गया है कि नारायण साकर हरि नामक एक स्वयंभू बाबा के अनुयायियों ने पीड़ितों की चप्पलें और अन्य सामान पास के खेतों में फेंककर भगदड़ के साक्ष्य छिपाने का प्रयास किया। पुलिस ने कार्यक्रम के आयोजक देवप्रकाश माथुर के खिलाफ धारा बीएनएस 105, 110, 126, 223 और 238 के तहत मामला दर्ज किया है। उल्लेखनीय है कि नारायण साकर हरि, जो फिलहाल फरार है, का नाम एफआईआर में नहीं है।

कार्यक्रम और उसके परिणाम

हाथरस (Hathras) जिले के सिकंदराराऊ पुलिस स्टेशन की सीमा के भीतर फुलराई गांव में स्वयंभू बाबा नारायण साकर हरि द्वारा आयोजित ‘सत्संग’ (प्रार्थना सभा) के दौरान यह दुखद घटना घटी। कथित तौर पर इस सभा में एक लाख (100,000) से अधिक लोग शामिल हुए थे, जिनमें से अधिकांश महिलाएं थीं।