Kolkata : इस कैफ़े के सारे स्टाफ क्यों है एचआईवी पॉज़िटिव जानिए इस न्यूज़ का सच

0
23
Kolkata
Kokata : Cafe staff is HIV Positive want to start awareness regarding This problem.

Kolkata :  कोलकाता के शहर में स्तिथ एक कैफ़े की चर्चा पुरे दुनिया में हो रही है। क्योकि यह एशिया में अपनी तरह का इकलौता कैफ़े है। एचआईवी के प्रति लोगो को जागरूक करने के मकसद से शुरू किए गए इस कैफ़े में हर स्टाफ एचआईवी एड्स से पीड़ित है। और इस पहल की खूब तारीफ  हो  रही है।

एचआईवी ( Kolkata ) पॉज़िटिव स्टाफ 

Kolkata

आपको यह भी बता दे की एचआईवी की ऐसी बीमारी जिसका कोई इलाज नहीं है परंतु , इसका लाइलाज होने से भी उससे बड़ा दर्द इसके मरीजों के साथ हो रही भेद भाव से है।

और साथ ही इससे पीड़ित लोगो से अछूत जैसा बेहवे किया जाता है , आधे से ज्यादा लोगो को यह लगता है की यह बीमारी चुने से ही फैलती है , जबकि ऐसा बिलकुल भी नहीं है , और इसके प्रति लोगो के मन में बसा डर को निकलने के लिए सरकार की तरफ से लगातार जागरूकता अभियान भी चलाया जा रहा है। परंतु , कुछ भी बदलता नहीं दिख रहा है।

तो ऐसे लोगो को जागरूक करने के लिए कुछ लोगो ने यह शानदार और साथ ही थोड़ा अलग पहल की है। इसके लिए एक एनजीओ ने कोलकाता के शहर में कैफ़े पोसिटिव खोला है , और इस कैफ़े में काम करने वाले हर स्टाफ एचआईवी पोसिटिव है।

ग्राहक को नहीं डर

आपको यह भी बता दे की इस कैफ़े की शुरुआत कल्लोल घोष ने की है , और वह यह बताते है की एचआईवी को लेकर यहाँ के लोगो में जागरूकता की बहुत कमी है , लोगो को यह लगता है की यह बिमारी सिर्फ और सिर्फ छूने से ही फैलती है और इसी वजह से वह मरीजों से गन्दा व्यवहार करते है।

इस कन्फूज़न को दूर करने के लिए ही उन्होंने इस कैफ़े की शुरुआत की है। इस कैफ़े में करीब – करीब 10 लोगो को काम पर रखा है। और  सभी एचआईवी पोसिटिव है। इस कैफ़े का स्टाफ खाना सर्वे करने से लेकर हिसाब – किताब का काम करते है , और कैफ़े में अच्छे खासे लोग भी आते है।

और जो भी यहाँ आता है उनके मन में कोई डर नहीं होता है। इससे दूसरे लोग भी आसानी से समझ जाते है की यह बिमारी छूने से नहीं फैलती।

ग्राहक को नहीं डर

कल्लोल घोष यह बताते है की भले ही हम इस कैफ़े को कोलकाता में चला रहे है , परंतु , इस कैफ़े की पहचान पुरे दुनिया भर में होती जा रही है , और तो और कई देशो से तो प्रतिनिधिमंडल कैफ़े देखने को भी आ चुके है आपको यह भी बता दे की पुरे एशिया में यह एकलौता कैफ़े है।

यहाँ के कस्टमर भी जानते है की कैफ़े में काम करने वाले स्टाफ एड्स से पीड़ित है , परंतु , उनके कस्टमर बिना किसी संकोच के वहां आते है और साथ वहां चाय और स्नैक्स भी लेते है।